How to prepare / Create salary bill on Pri Paymanager

Spread the love

How to prepare / Create salary bill on Pri Paymanager : पे मैनेजर की ही तरह पंचायती राज के कर्मचारियों के लिए पे मैनेजर – PRI को विकसित किया गया हैं | यह पोर्टल भी NIC के द्वारा ही विकसित किया गया हैं | प्री पे मैनेजर पोर्टल पे मैनेजर की तर्ज पर भुगतान में परिशुद्धता को लाने के लिए तैयार किया गया हैं | दोस्तों आज अपने इस पोर्टल पर वेतन बिल बनाने की प्रक्रिया के बारे में चर्चा करेंगे |

इसके लिए सबसे पहले आप PRI – paymanager पोर्टल को ओपन करेंगे | ओपन करने के लिए आप किसी भी एक ब्राउज़र को खोलेंगे | यहाँ पर आप PRI paymanager का इंद्राज कर देंगे | अभी आप सर्च कर देंगे | जैसे ही आप सर्च करते है | यहाँ आपके सामने काफी परिणाम प्रदर्शित होंगे | आप प्रथम परिणाम pripaymanager.raj.nic.in को क्लिक कर देंगे |

यदि आप इससे जुड़ा वीडियो देखना चाहते हैं, तो आर्टिकल के अन्त में जाएं |

जैसे ही आप यहाँ क्लिक करते हैं, आपको कुछ इस प्रकार का स्क्रीन प्रदर्शित होगा |

यहाँ पर आपको कुल चार विकल्प प्रदर्शित होंगे –

  • DDO
  • Employee
  • Department
  • SUB DDO

आप यहाँ पर प्रथम बॉक्स में लॉगिन ID, दूसरे बॉक्स में पासवर्ड तथा तीसरे बॉक्स में कैप्चा कोड प्रविष्ट कर देंगे |

यदि आप DDO हैं तो DDO के आगे बने गोले पर क्लिक कर देंगे | SUB DDO हैं तो SUB DDO के आगे बने गोले पर क्लिक कर देंगे | अभी आप लॉगिन टैब पर क्लिक कर देंगे |अभी आप pri paymanager के होम पेज पर पहुंच जायेंगे | यहाँ पर आपको कुछ इस प्रकार का स्क्रीन प्रदर्शित होगा |

यहाँ पर आपको निम्न विकल्प प्रदर्शित होंगे :-

  • Master
  • Bill Processing
  • Authorization
  • Reports
  • Other Bill
  • Employee Corner
  • System Admin
  • Log Out

जैसा कि आप किसी भी कार्य को करने से पहले उसकी रुपरेखा तैयार करते हैं | यहाँ पर भी तैयार करेंगे | रुपरेखा के लिए आप सबसे पहले यहाँ पर बिल नंबर एलोकेशन का कार्य करेंगे |

Bill No Allocation :-

बिल नंबर एलोकेशन के लिए आप Bill Processing में जाएंगे | Bill No Allocation पर क्लिक कर देंगे | दो विकल्प प्रदर्शित होंगे | Bill Allocation और Bill Modification. आप यहाँ पर Bill Allocation पर क्लिक कर देंगे | जैस एही आप यहाँ क्लिक करते है, कुछ इस प्रकार का स्क्रीन प्रदर्शित होगा |

बिल टाइप में आप Salary का चयन कर लेंगे | सब टाइप में आप Regular का चयन करेंगे | ऑब्जेक्ट हेड में SUB DDO के लिए 00 रहने देंगे | पे मंथ में आप जिस भी माह का वेतन बना रहे है, उस माह का चयन कर लेंगे | पे ईयर में आप वेतन माह के वर्ष का चयन करेंगे | बिल डेट दोस्तों बाई डिफाल्ट आज की रहेगी | यदि आप किसी प्रकार का बदलाव करना चाहते है, तो कर सकते हैं |

बिल नंबर आप वेतन बिल पंजिका के आधार पर दर्ज कर देंगे | बिल नाम में आप उस समूह का चयन करेंगे जिसमे आप वेतन बिल बना रहे हैं | PD खाता संख्या आप सूचि से सेलेक्ट कर लेंगे | इसके बाद आप सबमिट टैब पर क्लिक कर देंगे | एक पॉप अप स्क्रीन प्रदर्शित होगी | आप ok कर देंगे | बिल नंबर एलोकेशन का कार्य आपका यहाँ पूर्ण हो चूका है |

Employee Pay Detail :-

दोस्तों इस विकल्प में कर्मचारी की वेतन सूचनाएं अधतन की जाती है | इस विकल्प के लिए आपको निम्न स्टेप फॉलो करने होते हैं |

Bill Processing ⟹ Salary Preparation ⟹ Employee Pay Detail

जैसे ही आप यहाँ पहुँचते हैं | यहाँ पर आपको वेतन एडिट करने के लिए कुल नौ प्रकार उपलब्ध होते हैं | जो इस प्रकार हैं |

  • Add Allowance
  • Partial Pay
  • Stop Payment
  • Add Deduction
  • Add LIC
  • Loan Master
  • Add Nominee
  • Dependent Deduction
  • Suspend

चलिए दोस्तों इन सभी विकल्प पर थोड़ी – थोड़ी चर्चा कर लेते हैं |

Add Allowance :-

यहाँ इस विकल्प में आप कर्मचारी को प्रदान किये जाने वाले विभिन्न प्रकार के अलाउंस को ऐड करते हैं | यदि उदाहरण के तौर पर देखे तो –

  • DA (104)
  • Dual All (152)
  • CCA (108)
  • CAA (145)
  • HRA (107)
  • Govt. NPS (159)
  • HDA (119)
  • ROP (123)

अलाउंस को ऐड करने के लिए कुल तीन प्रकार के विकल्प उपस्थित होते हैं |

  • Amount
  • Slab
  • Formula

यहाँ पर आप अलग – अलग प्रकार के अलाउंस को आवश्यकतानुसार विकल्प का उपयोग कर ऐड कर सकते हैं |

Partial Pay :-

यहाँ पर दोस्तों आप किसी भी कर्मचारी के पार्शियल वेतन बिल का निर्माण करते हैं | उदहारण के तौर पर आप किसी कर्मचारी का मई माह का 10 कार्य दिवस का वेतन बनाना चाहते हैं | यहाँ पर आप प्रथम 10 कार्यदिवस के लिए फ्रॉम डेट में 01.05.2020 का चयन करेंगे | टु डेट में आप 10.05.2020 का चयन कर लेंगे | नीचे की ओर आप डिडक्शन के आगे बने चेक बॉक्स में क्लिक कर देंगे | इसके बाद आप submit बटन पर क्लिक कर देंगे | अन्त में आप Exit बटन पर क्लिक कर देंगे और बाहर आ जायेंगे |

Stop Payment :-

किसी भी कर्मचारी का वेतन रोकने के लिए आप इस विकल्प का प्रयोग करते हैं |

Add Deduction :-

किसी भी कर्मचारी की कटौतियां ऐड करने के लिए इस विकल्प का प्रयोग किया जाता हैं | उदहारण के तौर पर NPS, SI, Income Tax, RPMF, GPF आदि को ऐड किया जाता हैं | किसी भी प्रकार की कटौती जो वेतन से की जाती हैं | उसको करने के लिए यहाँ पर इस विकल्प का ही उपयोग होता हैं |

  • LIC 210
  • GIS 211
  • SIP 217
  • EMP- NPS 410
  • Govt. NPS 411
  • Car Rent 208
  • GPF 215
  • Income Tax 202
  • HITKARI NIDHI 301
  • RPMF 209
  • SI Loan 219

Add LIC :-

यहाँ पर कर्मचारी की जीवन बीमा से सम्बन्धित विभिन्न प्रकार की सूचनाएं अधतन की जाती हैं | उदाहरण के तौर पर मासिक प्रीमियम, पॉलिसी नंबर, अंतिम कटौती का माह आदि |

Loan Master :-

कर्मचारी के द्वारा लिए गए लोन यथा GPF लोन, SI लोन आदि की सूचनाएं यहाँ पर अधतन की जाती हैं |

Add Nominee :-

किसी भी कार्मिक की नॉमिनी से सम्बन्धित सूचनाएं अधतन करने के लिए इस विकल्प का उपयोग किया जाता हैं | उदाहरण के तौर पर कर्मचारी की मृत्यु होने के बाद उसके बकाया का भुगतान करने के लिए नॉमिनी डिटेल यहाँ फिल की जाएँगी |

Dependent Deduction :-

कार्मिक के अन्य किसी प्रकार के आश्रित कटौती को अधतन करने के लिए इस विकल्प का प्रयोग किया जाता हैं |

Suspend :-

यदि किसी कार्मिक को कारणवंश सस्पेंड कर दिया जाता हैं | तब इसके सूचनाएं अधतन करने के लिए इस विकल्प का प्रयोग किया जाता हैं |

यदि आप इससे जुड़ा वीडियो देखना चाहते हैं, तो नीचे दिए गए वीडियो लिंक पर क्लिक करें |

Leave a Comment

error: Content is protected !!