Complete study about Ayushman Bharat Yojana (PMJAY) in Hindi

Spread the love

Complete study about Ayushman Bharat Yojana (PMJAY) in Hindi :

आयुष्मान भारत योजना (PMJAY): परिचय :-

आयुष्मान भारत योजना एक हेल्थ कवर योजना हैं | इसे प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना (PMJAY) के नाम से भी जाना जाता है | इस योजना का मुख्य उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर भारतीयों को स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करना है।

To read this article in English, click on the following link :- Click Here

यह योजना 23 सितंबर, 2018 को भारत के माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा रांची, (झारखंड) से शुरू की गई थी। आयुष्मान भारत (PMJAY) दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य कवर योजना है | जिसका उद्देश्य गरीब भारतीयों को स्वास्थ्य कवर प्रदान करना है। यह योजना “किसी को भी पीछे नहीं छोड़ना है” के सिद्धांत पर आधारित हैं | सितंबर 2019 तक,लगभग 18,059 अस्पतालों को सूचीबद्ध किया गया तथा लगभग 10 करोड़ से अधिक ई-कार्ड जारी किए गए हैं।

आयुष्मान भारत योजना, देखभाल के दृष्टिकोण के आधार पर एक निरंतरता को गोद लेता है, जिसमें कुल दो अंतर-संबंधित घटक शामिल किये गए हैं, जो इस प्रकार से हैं –

  • स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र (HWCs)
  • प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (PM-JAY)

स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र (HWCs) :-

फरवरी 2018 में, भारत सरकार के द्वारा अपने मौजूदा उप केंद्रों और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को बदलकर 1,50,000 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर (एचडब्ल्यूसी) बनाने की घोषणा की गई थी । इन केंद्र की स्थापना प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल (सीपीएचसी) को लोगों के घरों के करीब पहुंचाने के लिए गई थी । ये केंद्र नि: शुल्क आवश्यक दवाओं और नैदानिक ​​सेवाओं सहित मातृ और बाल स्वास्थ्य सेवाओं और गैर-संचारी रोग दोनों को कवर करने का काम करता हैं।

आर्टिकल जो आपके काम आ सकते हैं :-

प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (PM-JAY) :-

PM-JAY को पहले राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना (NHPS) के नाम से जाना जाता था। इस योजना ने तत्कालीन मौजूदा राष्ट्रीय बीमा योजना (RSBY) को अधिग्रहित किया था, जिसको 2008 में लॉन्च किया गया था । PM-JAY पूरी तरह से सरकार द्वारा वित्त पोषित योजना है | कार्यान्वयन की लागत केंद्र और राज्य सरकार दोनों के बीच साझा की जाती है। इसके तहत सरकार की मंशा माध्यमिक और तृतीयक स्वास्थ्य सेवा को पूरी तरह से कैशलेस बनाने की है। पीएम जन आरोग्य योजना के लाभार्थियों को एक ई-कार्ड प्रदान किया जाता है | इस ई-कार्ड का उपयोग देश में कहीं भी, कभी भी, एक निजी अस्पताल में सेवाओं का लाभ उठाने के लिए किया जा सकता है । इसके साथ आप कैशलेस उपचार प्राप्त कर सकते हैं ।

PMJAY (Ayushman Bharat Yojana) की मुख्य विशेषताएं :-

  • PM-JAY पूरी तरह से सरकार द्वारा वित्तपोषित दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना / आश्वासन योजना है।
  • यह योजना प्रत्येक परिवार को रुपये का एक कवर प्रदान करता है।
  • पुरे भारत देश में सार्वजनिक और निजी अस्पतालों में माध्यमिक और तृतीयक देखभाल अस्पताल में भर्ती के लिए यह योजना हैं |
  • इस योजना के तहत अधिकत्तम राशि की सीमा 5 लाख रुपये प्रति परिवार प्रति वर्ष निर्धारित की गई हैं |
  • इस योजना के तहत उपचार केश लेश प्रदान किया जाता है अर्थात आपको किसी प्रकार का भुगतान करने की आवश्यकता नहीं हैं |
  • यह योजना चिकित्सा उपचार पर होने वाले भयावह खर्च को कम करने में मदद करता है | जो प्रत्येक वर्ष लगभग 6 करोड़ भारतीयों को गरीबी में धकेल देता है।
  • इसमें पूर्व अस्पताल में भर्ती होने के अधिकतम 3 दिन तथा निदान और दवाओं वाले अस्पताल में भर्ती होने के अधिकतम 15 दिन तक के खर्च शामिल हैं।
  • परिवार के आकार, आयु या फिर लिंग के आधार पर कोई प्रतिबंध इस योजना में नहीं लगाया गया है।
  • योजना के लाभ पूरे देश में पोर्टेबल हैं | यानी एक लाभार्थी कैशलेस उपचार का लाभ भारत के किसी भी सार्वजनिक या निजी अस्पताल में ले सकता है।
  • इस योजना में उपचार से संबंधित लगभग 1,393 प्रक्रियाएं शामिल हैं, जिसमें दवाओं, चिकित्सकों की फीस, कमरे के शुल्क, सर्जन शुल्क, ओटी और आईसीयू शुल्क आदि शामिल हैं।

PMJAY (Ayushman Bharat Yojana) से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण तिथियाँ :-

  • 1 फरवरी 2018 – यूनियन बजट के दौरान घोषणा
  • 21 मार्च 2018 – कैबिनेट की मंजुरी
  • 27 मार्च 2018 – CEO की नियुक्ति
  • 23 सितम्बर 2018 – आयुष्मान भारत योजना की लॉन्चिंग

PMJAY (Ayushman Bharat Yojana) के लाभ लेने के लिए निर्धारित मापदण्ड / पात्रता की शर्तें :-

इस योजना के तहत ग्रामीण तथा शहरी क्षेत्र के लिए अलग – अलग पात्रता शर्तें रखी गई हैं | जो कुछ इस प्रकार से हैं –

ग्रामीण क्षेत्र :-

ग्रामीण क्षेत्रों के लिए कुल सात अभाव मानदंडों में से, PM-JAY ने ऐसे सभी परिवारों को शामिल किया गया है | जो निम्नलिखित छह अभाव मानदंडों (D1 से D5 और D7) में से कम से कम एक अभाव मानदंड में आते हैं |

  • D1- केवल एक कमरा जिसमें कच्ची दीवारें और कच्चा छत है |
  • D2- 16 से 59 वर्ष के बीच कोई भी वयस्क सदस्य परिवार में नहीं हैं |
  • D3- 16 से 59 वर्ष की आयु के बीच का कोई वयस्क पुरुष सदस्य परिवार में नहीं है |
  • D4- विकलांग सदस्य और कोई सक्षम वयस्क सदस्य परिवार में नहीं हैं |
  • D5- एससी / एसटी घराने के परिवार |
  • D7- भूमिहीन परिवार जो अपनी आय का एक बड़ा हिस्सा दैनिक मजदुरी से प्राप्त करते हैं |

शहरी क्षेत्र :-

शहरी क्षेत्रों में निवास करने वाले व्यक्ति निम्नलिखित 11 व्यावसायिक श्रेणी के अन्तर्गत योजना के लिए पात्र हैं :-

  • कूड़ा उठाने वाला
  • घरेलू नौकर
  • याचक
  • सड़कों पर काम करने वाले स्ट्रीट वेंडर / कॉबलर / हॉकर / अन्य सेवा प्रदाता
  • निर्माण श्रमिक / प्लंबर / मेसन / श्रम / पेंटर / वेल्डर / सुरक्षा गार्ड / कुली और अन्य सिर-लोड कार्यकर्ता
  • स्वीपर / स्वच्छता कार्यकर्ता / माली
  • घर-आधारित कार्यकर्ता / कारीगर / हस्तशिल्प कार्यकर्ता / दर्जी
  • परिवहन कर्मचारी / ड्राइवर / कंडक्टर / हेल्पर को ड्राइवर और कंडक्टर / गाड़ी खींचने वाला / रिक्शा खींचने वाला
  • दुकानदार / सहायक / छोटे प्रतिष्ठान में सहायक / सहायक / वितरण सहायक / परिचर / वेटर
  • इलेक्ट्रीशियन / मैकेनिक / असेंबलर / मरम्मत कार्यकर्ता
  • वॉशर-मैन / चौकीदार

आप किसी भी शहर में अस्पताल को कैसे सर्च कर सकते हैं

सबसे पहले आप ऑफिसियल वेबसाइट को ओपन कर लेंगे | इसके पश्चात आप “मेन्यू बार” में प्रदर्शित “hospital” मेन्यू पर क्लिक करें | नीचे की ओर / तरफ लिस्ट (dropdown list) ओपन (open) होगी, जिसमे आप “Find Hospital” टैब (Tab) पर क्लिक (Click) करें |

अन्यथा आप आगे दिए गए लिंक पर क्लिक करें – Click Here

आप अपने मोबाइल नंबर इंद्राज करके एलिजिबल स्टेटस चेक कर सकते हैं – Click Here

Leave a Comment

error: Content is protected !!